राहुल गांधी के वीर सावरकर के बयान पर शिवसेना-भाजपा दिखी साथ-साथ, कहा कि

इन दिनों देश में सावरकर को लेकर घमासान मचा हुआ है! दरअसल, दिल्ली में भारत बचाओ रैली कांग्रेस कर रही थी! इस दौरान कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने मोदी सरकार पर तंज कसते हुए कहा कि मैं माफी नहीं मांगूंगा, मेरा नाम राहुल गांधी है सावरकर नहीं! मैं माफी नहीं मांगूंगा माफी तो प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और अमित शाह को मांगनी चाहिए जिन्होंने इस देश की मजबूत अर्थव्यवस्था को नष्ट कर दिया है! इस रैली से 1 दिन पहले भी राहुल गांधी सुर्खियों में थे वह भी उनके बयान के लिए और अब सावरकर को लेकर जो बयान दिया है उसके बाद देश में घमासान मचा हुआ है!

शिवसेना के दिग्गज नेता संजय राउत का कहना है कि वीर सावरकर ने केवल महाराष्ट्र बल्कि देश के लिए देव तुल्य है! शिवसेना का कहना है कि हिंदुत्व के प्रतीक का अनादर नहीं किया जाना चाहिए! वीर सावरकर का अपमान नहीं होना चाहिए! हम नेहरू और गांधी का सम्मान करते हैं! इतना ही नहीं बल्कि भाजपा के नेता देवेंद्र फडणवीस ने कहा कि वीर सावरकर के नाखून के बराबर भी नहीं है राहुल गांधी, खुद को गांधी समझने की गलती ना करें! गांधी नाम मिल जाने से कोई महात्मा गांधी नहीं बन जाता!

फडणवीस का कहना है कि सावरकर ने अपनी जिंदगी की आहुति मातृ भूमि के लिए दी और सब कुछ त्याग दिया, अंडमान की जेल में 12 साल रहे, राहुल गांधी 12 घंटे भी यह नहीं कर सकते! इस देश के लिए त्याग करने वाले तमाम देशभक्तों का अपमान होगा अगर सावरकर के लिए ऐसी भाषाओं का इस्तेमाल किया गया! राहुल गांधी को माफी मांगनी चाहिए!

इतना ही नहीं बल्कि पार्टी प्रवक्ता जीवीएल नरसिम्हा राव ने कहा कि कांग्रेस के लिए उपयुक्त नाम राहुल जिन्ना है! क्योंकि उन्हें मुस्लिम तुष्टिकरण की राजनीति तो पाकिस्तान का उत्तराधिकारी बनाती है! गौरतलब है कि भारतीय जनता पार्टी स्वतंत्रा सेनानी वीर सावरकर को काफी ऊंचा दर्जा देती है और वहीं विपक्ष सावरकर पर आरोप लगाया है कि जेल से रिहा होने के लिए सावरकर ने ब्रिटिश शासन से माफी मांगी!

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

Show Buttons
Hide Buttons