Judicial commotion: एक चिट्ठी ने हिला डाली पूरी न्यायपालिका, मचा बवाल! शुक्रवार (12 जनवरी) पर सर्वोच्च न्यायालय के प्रेस कॉन्फ्रेंस के चार न्यायाधीशों ने पहली बार प्रेस कॉन्फ्रेंस लेकर! और सर्वोच्च न्यायालय के कामकाज के लिए न्यायाधीश ने मुख्य न्यायाधीश को पत्र भी भेजा! जिसने कामकाज के बारे में सवाल पूछा था! इस प्रेस सम्मेलन में देश भर की न्यायपालिका भी शामिल है! विभिन्न प्रकार की बहस चल रही हैं!

Judicial commotion-

लेकिन इस गंभीर समस्या पर सोशल मीडिया में मजेदार चीजें भी चल रही हैं! न्यायमूर्ति चेलमेश्वर, न्यायमूर्ति रंजन गोगोई, न्यायमूर्ति मदन भीमराव और न्यायमूर्ति कुरियन जोसेफ ने मीडिया के सामने अपनी समस्याएं व्यक्त की! ट्विटर पर कहा कि, पहले इस पत्र का अर्थ समझा जाना चाहिए, जिसे मुख्य न्यायाधीश के पास भेजा गया था!

एक उपयोगकर्ता ने सभी चार न्यायाधीशों को मजेदार सलाह भी दे डाली! उपयोगकर्ता ने लिखा – चार न्यायाधीशों को सुबह की सैर की अनदेखी करनी चाहिए, अपनी एमआरआई रिपोर्ट प्रिंट करना जारी रखें! दिल के दौरे के बारे में सावधान रहें! किसी भी शादी में जाने से बचें बुलेट प्रूफ जैकेट पहनें और किसी भी दोस्त पर भरोसा नहीं करें!

एक उपयोगकर्ता ने अपने कार्टून को एक कार्टून के साथ शेयर किया! उसी समय एक उपयोगकर्ता ने मजाकिया GIF वीडियो शेयर किया था! जो पत्र को समझने की कोशिश कर रहा है! एक प्रयोक्ता ने इस बहस को भाजपा को किस तरह फेंक दिया? उपयोगकर्ता ने लिखा है कि हम साजिश सिद्धांतों को विकसित करते हैं! आपके चैनल से परे, आओ कांग्रेस को कोसे! एक उपयोगकर्ता ने लिखा है कि अरविंद केजरीवाल सर्वोच्च न्यायालय और उसके मुख्य न्यायाधीश के बारे में सही सोचते हैं!

और देखे-

लड़की से पूछा सवाल आपके आगे गोल गोल क्या लटकता है! लड़की हुई लाल!

sexual abuse caseफिल्मों में आने के लिए होना पड़ा ब्लैकमेल! करने पड़े ऐसे काम?

 

 

Summary
एक चिट्ठी ने हिला डाली पूरी न्यायपालिका, मचा बवाल!
Article Name
एक चिट्ठी ने हिला डाली पूरी न्यायपालिका, मचा बवाल!
Description
एक चिट्ठी ने हिला डाली पूरी न्यायपालिका, मचा बवाल! शुक्रवार (12 जनवरी) पर सर्वोच्च न्यायालय के प्रेस कॉन्फ्रेंस के चार न्यायाधीशों ने पहली बार प्रेस कॉन्फ्रेंस लेकर!
Author
Publisher Name
India Virals
Publisher Logo

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here