कश्मीर को लेकर बौखला गया पाकिस्तान, फसे बड़ी संख्या में अटारी बॉर्डर पर लोग

Pakistan Samjhauta Express Suspends: अनुच्छेद-370 (Article 370) हटाए जाने के बाद से बढ़े तनाव के बीच अब खबर आ रही है कि पाकिस्तान ने समझौता एक्सप्रेस (Samjhauta Express) पर रोक लगा दी है! पाकिस्तान ने अपने ट्रेन ड्राइवर और गार्ड को समझौता एक्सप्रेस के साथ भेजने से मना कर दिया है!

बता दे कि भारत के साथ व्यापार बंद करने के बाद आज पाकिस्तान ने लाहौर से अटारी तक आने वाली समझौता एक्सप्रेस रेलगाड़ी को रोक दिया है! आर्थिक तंगी से गुजर रहे पाकिस्तान ने यह फैसला ऐसे समय में लिया है, जब भारत द्वारा पुलवामा हमले के बाद मोस्ट फेवर्ड नेशन (MFN) का दर्जा छीने जाने की वजह से भारत में उसका एक्सपोर्ट बहुत कम हो चुका है! पाकिस्तान मीडिया के मुताबिक बाघा बॉर्डर पर रेलगाड़ी को रोका गया है!

बता दे अटारी अंतरराष्ट्रीय रेलवे स्टेशन के सुपरिंटेंडेंट अरविंद कुमार गुप्ता ने बताया कि आज पाकिस्तान से समझौता एक्सप्रेस को भारत आना था! लेकिन इस दौरान पाकिस्तान से संदेश आया कि भारतीय रेल अपने ड्राइवर और क्रू मेंबर को भेजकर समझौता एक्सप्रेस को ले जाए! पाकिस्तान के अंग्रेजी अखबार डॉन की वेबसाइट के अनुसार राष्ट्रीय सुरक्षा समिति (NSC) ने बुधवार को पाकिस्तान के राजनयिक संबंधों को कम करने और भारत के साथ सभी द्विपक्षीय व्यापार को निलंबित करने का ‘संकल्प’ लेते हुए, कश्मीर पर कब्जे के संबंध में हालिया घटनाक्रमों के मद्देनजर कई बड़े फैसले लिए!

इंडिया टीवी पर भाजपा के रविंद्र रैना ने दिया जवाब

Pakistan Samjhauta Express Suspends, Pakistan, samjhauta express, india,jammu kashmir, article 370, पाकिस्तान, समझौता एक्सप्रेस, आर्टिकल 370, जम्मू, जम्मू कश्मीर Pakistan, Jammu, Jammu Kashmir, वाघा बॉर्डर, धारा 370, जम्मू-कश्मीर, Wagah Boarder, Pakistan, Article 370, Hindi News

बता दे की पहले पहले पाकिस्तान ने भारत से राजनयिक संबंधों में कमी की थी! और अब समझौता एक्सप्रेस को रोक दिया गया! जब इंडिया टीवी के शो में एंकर ने रविंद्र रैना से पूछा कि आप इस फैसले पर क्या कहेंगे और फसे हुए यात्री का क्या होगा! तब रविंद्र रैना ने बड़े कड़े लफ्ज़ो में कहा कि हम भारतीय नागरिको को सही सलामत वापस लाएंगे! उनका कोई बाल भी बांका नहीं कर सकता!

One Reply to “कश्मीर को लेकर बौखला गया पाकिस्तान, फसे बड़ी संख्या में अटारी बॉर्डर पर लोग”

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *