नहीं रहे ओम पुरी: 66 की उम्र में दिल का दौरा पड़ने से निधन, जानिए उनके बारे में….

Om Puri Passes Away At 66 After Suffering A Heart Attack:- मुंबई: ओम पुरी का शुक्रवार सुबह दिल का दौरा पड़ने से निधन हो गया है। वह 66 साल के थे। उन्होंने अब तक 100 से ज्यादा हिंदी और 20 हॉलीवुड मूवी में काम किया था। उन्हें ‘अर्ध सत्य’ और ‘आरोहण’ मूवी के किरदार के लिए बेस्ट एक्टर के नेशनल अवॉर्ड से भी नवाजा गया। 1990 में उन्हें पद्मश्री भी मिला था। ओम पूरी का बचपन तंगहाली में गुजरा था। उनको ढाबे में भी काम करना पड़ा। यहां तक कि चाय की दुकान में गिलास तक भी साफ करने पड़े। आपको बता दें कि इन दिनों वे सलमान के साथ ‘ट्यूबलाइट’ की शूटिंग में बिजी थे। जून में ईद पर रिलीज होने वाली कबीर खान की इस मूवी में ओम पूरी एक गांधीवादी नेता का रोल कर रहे थे। ओपीएम पूरी का अंतिम संस्कार शाम 6:30 बजे ओशिवरा में किया जाएगा। गुरुवार को शूटिंग कर लौटे थे…

Om-puri
– उनके पड़ोसियों के मुताबिक, ओम गुरुवार शाम को एक फिल्म की शूटिंग खत्म कर घर लौटे थे।
– शुक्रवार की सुबह उनके ड्राइवर ने घर का दरवाजा खटखटाया। दरवाजा न खोले जाने पर ड्राइवर ने ही स्थानीय ओशिवारा पुलिस स्टेशन में सुचना दी।
– फिलहाल, उनके पार्थिव शरीर को पोस्टमॉर्टम के लिए कूपर हॉस्पिटल ले जाया गया है। हॉस्पिटल में शबाना आजमी, सुशांत सिंह और अशोक पंडित भी मौजूद थे।
पीएम मोदी ने ट्वीट कर दुख जताया
– पीएम मोदी ने ओम पुरी के निधन पर दुख जताया। फिल्म और थिएटर में उनके काम और योगदान को भी याद किया।
– मधुर भंडारकर ने कहा कि यकीन ही नहीं होता कि इतना एक्टिव इंसान इस तरह अचानक चला गया, बहुत दुखद बात है, फिल्म इंडस्ट्री में उनका बहुत योगदान रहा है।
– डेविड धवन ने उनको याद करते हुए कहा- “बड़ा धक्का लगा उनकी म्रत्यु की न्यूज सुनकर। 1974 में हम रूम मेट रह चुके है वो कमाल के अभिनेता थे।”
– शबाना आजमी ने कहा- “उनसे करीब की दोस्ती रही थी, उनके साथ कई फिल्मों में भी काम किया, उनका निधन होना बहुत ही अफसोस की बात है।”
– रजा मुराद ने कहा- “ज्यादा शराब पीने से ओम पुरी साहब की सेहत खराब हो गई थी। बेहद आम शक्ल सूरत होने के बावजूद उन्होंने अपनी एक्टिंग का लोहा मनवाया था।”
– महेश भट्ट ने भी ट्वीट कर ओम को श्रद्धांजलि दी। लिखा- “अलविदा ओम! आज तुम्हारे साथ मेरी भी जिंदगी का एक हिस्सा आपके साथ चला गया। मैं उस वक़्त को कैसे भूल सकता हूं, जब हमने फिल्म और जिंदगी की बातें करते-2 कई रातें गुजारी थीं।
कौन थे ओम पुरी?
– ओम पुरी का जन्म 18 अक्टूबर, 1950 को अंबाला में एक पंजाबी परिवार में हुआ था। हिंदी फिल्मों के अलावा पाकिस्तान और हॉलीवुड की फिल्मों में भी काम किया।
– पुरी ने पुणे के फिल्म एंड टेलीविजन इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया (FTII) से ग्रैजुएशन किया था।
– उन्होंने दिल्ली के नेशनल स्कूल ऑफ ड्रामा (एनएसडी) से भी पढ़ाई की थी। यहां नसीरुद्दीन शाह भी उनके क्लासमेट थे।

दो बार मिला नेशनल अवॉर्ड
– उन्हें दो बार नेशनल अवॉर्ड भी मिला।
– पहली बार 1982 में ‘आरोहण’ के लिए, वहीं दूसरी बार 1984 में ‘अर्ध सत्य’ मूवी के लिए बेस्ट एक्टर का अवॉर्ड मिला था।
दो शादी की थींं ओम ने
– ओम पुरी की पर्सनल लाइफ भी कई बार विवादों में रही।
– उन्होंने दो शादी की थीं। पहली पत्नी का नाम सीमा है। इसके बाद उन्होंने 1993 में नंदिता पुरी का हाथ थाम लिया। सीमा ने नंदिता पर उनका घर तोड़ने का आरोप भी लगाया था।
– नंदिता से एक बेटा है जिनका नाम ईशान है। नंदिता ने ओम पर घरेलू हिंसा का आरोप भी लगाया था, इसके बाद 2013 में दोनों अलग-२ हो गए।
कैसा रहा फिल्मी सफर?
– साधारण चेहरे के हनी बावजूद ओम पुरी अपनी खास एक्टिंग, आवाज और डायलॉग डिलिवरी के लिए भी जाने जाते थे।
– 1976 में आई ओम की पहली फिल्म ‘घासीराम कोतवाल’ थी।

India Virals से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!

Comments

comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *