शनिवार , दिसम्बर 7 2019
enhi
Breaking News
Home / खास खबर / कांग्रेस का सरकार बनाने का सपना टुटा, अब बीजेपी बनाएगी सरकार
Haryana Election 2019, Haryana Election, Haryana CM, Haryana NEW CM, Haryana Election 2019 MAKE GOVT

कांग्रेस का सरकार बनाने का सपना टुटा, अब बीजेपी बनाएगी सरकार

Haryana Election 2019: हरियाणा में भारतीय जनता पार्टी को 40 सीटों से संतोष करना पड़ा है। हालांकि बहुमत के लिए पार्टी को 90 सीटों में से 46 सीटें चाहिए थी। भाजपा को बहुमत न मिलता देख कांग्रेस ने भी तैयारी करनी शुरू कर दी थी। हालांकि इसी समय बाजी पलट गई और बीजेपी की किस्मत एक बार फिर से साथ दे गई है। अब भाजपा को हरियाणा में रोकना कठिन हो गया है।

Haryana Election 2019 –

न्यूज चैनलों के एग्जिट पोल में कांग्रेस भले ही पस्त दिखाई दे रही थी लेकिन जैसे ही हरियाणा के नतीजे सामने आए और कांग्रेस ने अपना दम दिखाया। कांग्रेस को 31 सीटें मिली हैं जबकि भाजपा को 40 सीटें मिली हैं।

ऐसे में कांग्रेस भी उत्याहित दिखाई दे रही है क्योंकि वो भी सरकार बना सकती है। कांग्रेस जेजेपी और निर्दलीय विधायकों को अपने पाले में करना चाह रही है।

कांग्रेस जहां हरियाणा में सरकार बनाने की तैयारी कर रही थी, अचानक बाजी पलट गई। इसकी वजह है भारतीय जनता पार्टी को सरकार बनाने के लिए छह विधायकों की जरूरत थी जबकि बाजी पलटी और पूरे नौ विधायक ही पार्टी को समर्थन देने के लिए तैयार हो गए हैं।

इन सबकी मुलाकात भी भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा से हो गई है। इनमें रणधीर गोलन, बलराज कुंडू, रणजीत सिंह, राकेश दौलताबाद, गोपाल कांडा, सोमवीर सांगवान, धर्मपाल गोंदर, अभय चौटाला और नयनपाल रावत हैंं।

Loading...

About Hanny Dhiman

Check Also

स्टार हेल्थ सीनियर सिटीजन रेड कारपेट, Star Health Senior Citizen Red Carpet, Star Health Senior Citizen, Health Insurance, हेल्थ इंश्योरेंस

Star Health Senior Citizen Red Carpet | स्टार हेल्थ सीनियर सिटीजन रेड कारपेट क्या-क्या सुविधा दे रहा है

Star Health Senior Citizen Red Carpet: स्वास्थ्य हमारे शरीर का अभिन्न अंग है! जिसके लिए …

Asaduddin Owaisi, politics of Maharashtra, bjp, congress, shivsena, aimim

महाराष्ट्र की घमासान राजनीति में असादुद्दीन ओवैसी ने किया दमदार ऐलान, कहा कि अगर शिवसेना-कॉन्ग्रेस…

महाराष्ट्र में सियासत अपने उफान पर है! ऐसे में शिवसेना जब अपने संख्या बल को …

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *