Home खास खबर टीपू सुल्तान ने किया था सबसे बड़ा आविष्कार, जिस की तस्वीर आज...

टीपू सुल्तान ने किया था सबसे बड़ा आविष्कार, जिस की तस्वीर आज भी अमरीका की स्पेस एजेंसी नासा में लगाई हुई है

0
9

Picture of Tipu Sultan in America of NASA: हेलो दोस्तों स्वागत है आपका हमारे वेब पोर्टल Indiavirals पर! आज हम आपको बताने जा रहे हैं नासा के बारे में! नासा जोगी कॉफी हाई टेक्नोलॉजी से भरपूर है! अमेरिका की इस ब्रांच को पूरा विश्व में काफी लोकप्रियता प्रदान की गई है! परंतु आज बताने जा रहे हैं नासा के अंदर रखी हुई टीपू सुल्तान की एक तस्वीर के बारे में! दरअसल ऐसे तो हर एक मीडियम में या किसी ऑफिशियल ऑफिस के अंदर किसी ना किसी की कोई ना कोई प्रतिमा रखी हुई है! परंतु देखा जाता है कि जिस देश की जैसी ब्रांच है उसके अंदर ऐसा ही कोई मैट्रियल पाया जाता है! नासा के अंदर भारतीय सुल्तान की फोटो का रहस्य क्या है? क्यों रखी गई है टीपू सुल्तान की तस्वीर? आइए जानते हैं क्या खास है आज हमारी इस रिपोर्ट के अंदर!

picture of Tipu Sultan in America of NASA –

नासा जो कि अमेरिका की स्पेस एजेंसी है! हम आपको बता दें नासा के स्वागत कक्ष में टीपू सुल्तान की 1 लड़ाई करने वाली तस्वीर लगाई हुई है! इसमें टीपू सुल्तान रॉकेट से लड़ाई करते हुए दिखाई दे रहे हैं! आपकी जानकारी के लिए बता दे द्वितीय आंग्ल मैसूर युद्ध में ब्रिटिश साम्राज्य को शिकस्त देने के लिए टीपू सुल्तान ने इस हथियार का इस्तेमाल किया था! टीपू सुल्तान के पिता हैदर अली सिग्नल देने के लिए छोटे-छोटे रॉकेट का इस्तेमाल करते थे! आपने सुना ही होगा हर अविष्कार के बीच एक नई सोच होती है ठीक इसी प्रकार टीपू सुल्तान की यह नई तकनीक सोच थी!

आपको बता दें कि टीपू सुल्तान ने बॉस के स्थान पर अपनी बुद्धि का इस्तेमाल करते हुए स्टील का इस्तेमाल किया! इतना ही नहीं बल्कि उसने थोड़ा रॉकेट का साइज बढ़ा दिया और उसे थोड़ा नई तरीके से मॉडिफाई भी किया! उसकी नई तकनीक से जब उसने रॉकेट का साइज बड़ा किया तो उसमें गोला बारूद और बड़ी मात्रा में आ सकता था! और साथ ही में जो खाली जगह जाती उसमें तलवार भरी जाती थी! जानकारी के लिए बता दे द्वितीय आंग्ल मैसूर युद्ध में इसी हथियार की वजह से टीपू सुल्तान को सफलता मिली! हालांकि चौथे आंग्ल मैसूर युद्ध में टीपू सुल्तान की मृत्यु हो गई! लेकिन जाते-जाते एक ऐसा हथियार बना गए जिसे बाद में अंग्रेज इंग्लैंड लेकर चले गए! इस हथियार के लिए टीपू सुल्तान को काफी सहारा गया! इसी वजह से नासा के स्वागत कक्ष में टीपू सुल्तान की आंगल मैसूर युद्ध की तस्वीर लगाई हुई है! क्योंकि उस समय रॉकेट बनाने का पहला प्रयास टीपू सुल्तान ने किया था!

दोस्तों मुझे करता हूं आप कोई जानकारी अच्छी लगी! आप इसे ज्यादा से ज्यादा शेयर करें ताकि हर कोई जान सके आखिर क्यों टीपू सुल्तान की तस्वीर नासा के स्वागत में लगाई हुई है!

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here