Home खास खबर खुल गयी कांग्रेस की पोल पट्टी, PNB बैंक की धोखाधड़ी में आया...

खुल गयी कांग्रेस की पोल पट्टी, PNB बैंक की धोखाधड़ी में आया सच बाहर, हो गयी राहुल की नींद गायब

0
423
PNB Fraud Case Exposed Congress

PNB Fraud Case Exposed Congress: पंजाब नेशनल बैंक (PNB) घोटाले के आरोपी मेहुल चौकसी के एंटीगुआ भाग जाने और वहां की नागरिकता ले लिए जाने के बाद अब इस मामले में एक और बड़ा खुलासा हुआ है. मेहुल चौकसी के एंटीगुआ में Advocate Dr. डेविड डोरसेट ने जो दावा किया उससे कांग्रेस की कलई एक बार फिर खुलती नजर आ रही है.

PNB Fraud Case Exposed Congress-

आपको बता दें कि PNB घोटाला सामने आने के बाद BJP और Congress दोनों पार्टियां काफी दिनों तक आमने सामने थी लेकिन अब इस मामले ने ऐसा मोड़ लिया है कि Congress पार्टी खास कर Rahul Gandhi की जमकर फजीहत होने वाली है. आइए बताते हैं कि UPA सरकार के समय हुए इस Fraud में अब क्या खुलासा हुआ है.

बड़ा खुलासा: मेहुल चौकसी के Congress से थे रिश्ते

PNB धोखाधड़ी मामले को लेकर एक बड़ा खुलासा हुआ है. मेहुल चौकसी के CONG से संबंध होने के आरोप लगे हैं. चौकाने वाली बात यह है कि यह खुलासा खुद एंटीगुआ में मेहुल चौकसे के Advocate डॉ डेविड डोरसेट ने किया है. डोरसेट ने सनसनीखेज खुलासा करते हुए दावा किया है कि चौकसी के CONG Party से संबंध हैं. इस मामले ने अब सियासी रंग ले लिया है और BJP ने CONG से जवाब मांगा है.

एंटीगुआ से ABS TV को दिए इंटरव्यू में Dr. डोरसेट ने चौकसी के पक्ष में बोलते हुए कहा कि CONG के साथ रिश्ते होने की वजह से उसके मुवक्किल को कठिनाई हो रही है. उन्होंने आगे कहा कि Court को इस बात की जांच करनी चाहिए कि कहीं यह मामला Politics से प्रेरित तो नही है. जो यहां के प्रत्यर्पण कानून की Section 8 के अंतर्गत आता है.

केन्द्रीय मंत्री और BJP नेता रविशंकर प्रसाद ने Congress से मांगा जवाब

मेहुल चौकसी के वकील के दावे पर केन्द्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने Congress को आड़े हाथों लिया है. उन्होंने कहा कि मेहुल चौकसी के विदेशी Advocate की यह बात मायने रखती है जिसमें CONG के साथ रिश्तों को स्वीकार किया गया है. CONG को इस पर जवाब देना चाहिए.

प्रसाद ने कहा कि BJP पहले ही कह चुकी है कि तत्कालीन वित्त मंत्री P. चिदंबरम हीरे Import करने के लिए खुले अधिकार रखने वाली कंपनियों की सूची में विस्तार किया था और मेहुल चौकसी की Company को इससे काफी लाभ पहुंचा. यह निर्णय 2014 Loksabha Election से पहले लिया गया था लेकिन Congress ने अभी तक साफ नही किया है कि ऐसा क्यों किया.

एंटीगुआ में रह रहा है मेहुल चौकसी

एंटीगुआ की Govt. ने पहली बार आधिकारिक तौर पर पुष्टि की है कि मेहुल चौकसी एंटीगुआ में रह रहा है. एंटीगुआ की सरकार ने यह जानकारी Interpol को दी और इंटरपोल ने यह जानकारी भारत की दी है. आपको बता दें कि CBI ने नेशनल क्राइम ब्यूरो के जरिए एंटीगुआ सरकार से वहां मेहुल चौकसी की मौजूदगी के बारे में जानकारी मांगी थी.

इसके बाद एंटीगुआ की सरकार ने Interpol के जरिए भारत को बताया है कि मेहुल चौकसी एंटीगुआ में है और यहां की नागरिकता ले चुका है. एंटीगुआ की Govt. ने यह भी संकेत दिया है कि भगौड़े हीरा Businessman मेहुल चौकसी को भारत भेजने के वैध अनुरोध पर वह विचार करेगी.

इधर भारत में ED की अर्जी पर CBI ने नीरव मोदी और मेहुल चौकसी को भगौड़ा अपराधी Law के तहत समन देकर 25 और 26 Sept को पेश होने को कहा है.

और देखे – आखिर अनुच्छेद 35ए में ऐसा क्या है कि इस पर जम्मू-कश्मीर में कोहराम मचा हुआ है?

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here