हार्ट अटैक का रामबाण इलाज वो भी अब बस 1 मिनट में, जिससे रोगी की जान बच सकती …

0
270
Heart-Attack Symptom Reason Treatment

Heart-Attack Symptom Reason Treatment: बदलते लाइफस्टाइल (Life-Style) और खान-पान में निरंतर बदलाव के कारण आज हर व्यक्ति किसी न किसी बीमारी (Disease) से ग्रस्त है। इसमें से हार्ट अटैक (Heart-Attack) की समस्या लोगों में सबसे अधिक देखने को मिलती है। हार्ट अटैक (Heart-Attack) जैसी खतरनाक बीमारी (Dangerous Disease) की चपेट में हर उम्र का व्यक्ति आ सकता है।

Heart-Attack Symptom Reason Treatment-

time of heart attack

हार्ट अटैक के शुरूआती लक्षण (Symptoms) दिखने पर तुरंत इसका उपचार (Immediate Treatment) न किया जाए तो रोगी की जान भी जा सकती है। डायबिटीज (Diabetes) के मरीजों में तो हार्ट अटैक के लक्षण (Symptoms) दिखाई भी नहीं देते, उन्हें बिना दर्द के ही साइलेंट हार्ट अटैक (Silent Heart-Attck) पड़ता है।

ऐसे में आज हम आपको एक ऐसा इलाज (Treatment) बताएंगे कि जिससे हार्ट अटैक (Heart-Attack) पड़ने पर रोगी की जान बचाई जा सकती है। तो आइए जानते है कि Heart-Attack पड़ने पर तुरंत क्या करने से रोगी की जान (Patients) बचाई जा सकती है।

हार्ट अटैक के लक्षण (Symptoms) –

  1. सीने में हल्का दर्द (Chest Pain)
  2. सांस लेने में दिक्कत (Breathing Problem)
  3. फ्लू की समस्‍या (Flu Problem)
  4. लो या हाई ब्लड प्रेशर (Low/High Blood Pressure)
  5. अधिक पसीना आना (Sweating More)
  6. कमजोरी महसूस होना (Feeling Week)
  7. तनाव और घबराहट (Stress and nervousness)
  8. शुरूआत में उल्टी आना (Vomiting at the beginning)
  9. कंधें, गर्दन और पीठ दर्द (Shoulders, Neck and Back Pain)
  10. चक्कर आना (Dizziness)
  11. अशांत मन और बेचैनी (Turbulent mind and restlessness)

हार्ट अटैक के कारण (Heart-Attack Reason) –

  1. डायबिटीज (Diabetes)
  2. मोटापा (obesity)
  3. हाई कोलेस्ट्रॉल (High cholesterol)
  4. हाई ब्लड प्रैशर (High blood pressure)
  5. जेनेटिक प्रॉब्लम (Genetic problem)
  6. ज्यादा तनाव रहना (Have more stress)
  7. किसी चीज से डर या सदमा लगना (Fear or shock)
  8. अचानक धड़कनों का तेज होना (Sudden Beatness)
  9. धमनियों में रक्त का थक्का जमना (Arterial blood clot)

हार्ट अटैक से बचने का घरेलू नुस्खा (Home remedies heart attack)

लाल मिर्च में मौजूद कैल्शियम (Ca), जिंक (Zn), सेलेनियम, मैग्निशियम (Mg) विटामिन सी (V-C)और ए (V-A) हार्ट अटैक पड़ने पर आपको बचा सकते है। हार्ट अटैक आने पर रोगी को तुरंत 1 कप पानी (Teaspoon red chili powder in 1 cup of water) में 1 टीस्पून लाल मिर्च घोल कर पीलाएं।

अगर रोगी बेहोश (Unconscious) हो गया है तो किसी तरह उसे लाल मिर्च चटा दें। इससे वो होश में आ जाएगा और इसके बाद उसे लाल मिर्च का जूस (Chili Powder Juice) पीलाएं। इससे पेशेंट की जान बच जाएगी।

और देखें – Video : कांग्रेस नेता का वायरल हो रहा ये वीडियो देखकर कोई भी हिन्दू कांग्रेस को वोट नही देगा …

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here