बुधवार , दिसम्बर 11 2019
enhi
Breaking News
Home / न्यूज़ / के सिवन का बड़ा बयान, अंतरिक्ष में बनाएंगे स्पेस स्टेशन, ऐसी होगी प्रक्रिया
ISRO Space station built space, ISRO, Space station, ISRO Chief, k sivan

के सिवन का बड़ा बयान, अंतरिक्ष में बनाएंगे स्पेस स्टेशन, ऐसी होगी प्रक्रिया

दिल्ली, इंडियावायरलस: देश की अंतरिक्ष अनुसंधान इसरो फिलहाल बड़े-बड़े प्रोजेक्ट पर काम कर रही है! अभी हाल ही में कुछ समय पहले चंद्रयान-2 का मिशन किया गया था! आखिरी वक्त में विक्रम लेंडर से संपर्क टूट गया लेकिन भारतीय वैज्ञानिकों ने उससे संपर्क बनाने में हार नहीं मानी! वही कुछ समय पहले इसरो के चीफ के सिवन ने मिशन गगनयान को लेकर बड़ी घोषणा की थी! जिसमें कहा गया था कि हम अंतरिक्ष में मानव को भेजने की तैयारी कर रहे हैं! अब ऐसा ही कुछ बड़े प्रोजेक्ट की के सिवन ने फिर से चर्चा की है!

इसरो चीफ के सिवन ने बड़ा ऐलान किया है! अब इसरो वह काम करने जा रहा है जो उसने कभी पहले नहीं किया! के सिवन में बताया है कि भारत अंतरिक्ष में अपना स्पेस स्टेशन बनाने जा रहा है! अब इसके लिए इसरो अगले साल स्पेस डॉकिंग एक्सपेरिमेंट करने जा रहा है! इसरो इसे पीएसएलवी की मदद से अंतरिक्ष में भेजेगा! जिसमें दो सेटेलाइट को भेजा जाएगा! अंतरिक्ष में जाने के बाद रॉकेट से निकलने के बाद यह दोनों सेटेलाइट आपस में मिल जाएगी! यह प्रक्रिया आसान नहीं होगी!

स्पेस स्टेशन होता क्या है

इसे ऑर्बिटल स्टेशन भी कहा जाता है! इसे बनाते समय इंसानों को मुहैया कराने वाली सभी सुविधाओं को ध्यान में रखा जाता है! साफ लफ्जों में कहा जाए तो मानव निर्मित अंतरिक्ष स्टेशन, जिससे अंतरिक्ष में पृथ्वी से कोई भी यान जाकर मिल सकता है!

स्पेस स्टेशन की क्षमता होती है कि उस पर कोई भी यान उतारा जा सकता है! स्पेस स्टेशन को पृथ्वी की लौ ऑर्बिट के अंदर ही स्थापित किया जाता है!

बता दें कि अंतरिक्ष में 2 स्पेस स्टेशन पृथ्वी की कक्षा में मौजूद है! अंतर्राष्ट्रीय स्पेस स्टेशन (परिचालन और स्थायी रूप से निवास), और चीन का Tiangong-2 (परिचालन लेकिन स्थायी रूप से निवास नहीं)!

पिछले स्पेस स्टेशनों में अल्माज़ और Salyut series, स्काइलैब, मीर और हाल ही में Tiangong-1 शामिल हैं! अंतरिक्ष में स्पेस स्टेशन इसलिए बनाया गया है ताकि वैज्ञानिक लंबे समय तक अंतरिक्ष में काम कर सकें!

Loading...

About Hanny Dhiman

Check Also

सच कमजोर हो सकता है लेकिन कभी हार नहीं सकता, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को मिली क्लीन चिट

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को साल 2002 में हुए मामले की जांच के लिए जस्टिस नानावती …

Modi government, citizenship amendment bill, NRC, Amit shah

गृहमंत्री अमित शाह ने संसद में बताया क्या होगा मोदी सरकार का अगला कदम, नागरिकता संशोधन बिल के बाद

What will be the next step of the Modi government after the citizenship amendment bill: आज …

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *