Home Latest Virals प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नाम के आगे ‘श्री’ (Shri) न लगाने से...

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नाम के आगे ‘श्री’ (Shri) न लगाने से आपके साथ ये सब हो सकता है !

Prime Minister Narendra Modi

Prime Minister Narendra Modi: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नाम के आगे ‘श्री’ (Shri) न लगाने से आपके साथ ये सब हो सकता है ! कई बार हम पर किसी शख्स का प्रभाव इतना अधिक हो जाता है! कि उसके बारे में हम सिर्फ अच्छा ही सुनना चाहते हैं! यहां तक कि अगर कोई उस शख्स का नाम लेने से पहले सम्मान सूचक शब्द इस्तेमाल ना करे! तो भी हमें बुरा लग जाता है! कुछ ऐसा ही व्यवहार रहा BSF के एक कमांडर का, जिसने BSF के एक जवान पर सिर्फ इसलिए जुर्माना लगा दिया! क्योंकि उसने ‘मोदी प्रोग्राम’ (Modi Program) के आगे ‘श्री’ नहीं लगाया था! तो क्या नियम ये कहते हैं कि कभी भी और कहीं भी PM मोदी का नाम लेने से पहले “श्री” (Shri) लगाना जरूरी है, वरना सजा मिलेगी?

Prime Minister Narendra Modi-

नरेंद्र मोदी ने जताई नाराजगी –

‘मोदी प्रोग्राम’ के आगे ‘श्री’ न लगाने की वजह से पश्चिम बंगाल के नादिया जिले में तैनात BSF की 15वीं बटालियन के कॉन्स्टेबल संजीव कुमार पर उनके कमांडिंग ऑफिसर ने 7 दिन की सैलरी काटने का जुर्माना लगा दिया! आरोप था कि संजीव कुमार ने BSF Act 1968 के सेक्शन 40 का उल्लंघन किया है! संजीव कुमार ने एक कार्यक्रम का जिक्र करते हुए ‘मोदी प्रोग्राम’ कहा था! बस इसी से कमांडिंग ऑफिसर नाराज हो गए थे! जब इसका पता पीएम मोदी को चला तो उन्होंने खुद ही यह आदेश वापस लेने को कहा! इसके बाद जवान की सैलरी वापस कर दी गई! और कमांडिंग ऑफिसर को भी चेतावनी दी गई! इसे लेकर BSF ने एक ट्वीट भी किया!

क्या है ‘ BSF Act 1968’ के ‘सेक्शन-40’ में –

इस Act के तहत अगर कोई जवान ऐसी गलती करता है जो BSF के अनुशासन और अच्छे आचरण के प्रतिकूल है! भले ही उसके बारे में इस एक्ट में न लिखा गया हो! तो उसे सिक्योरिटी फोर्स कोर्ट (Security Force Court) की तरफ से सजा दी जा सकती है! यह सजा 7 साल तक की या गलती की गंभीरता के अनुसार कम भी हो सकती है! यहां ध्यान देने वाली बात यह है कि इस section में कहीं भी सरकार या प्रधानमंत्री के प्रति सम्मान दिखाने को लेकर कोई बात नहीं कही गई है! यहां बात सिर्फ BSF के अनुशासन की हो रही है और जवान संजीव कुमार ने BSF का अनुशासन नहीं तोड़ा! यही वजह है कि बीएसएफ ने कमांडिंग ऑफिसर को भविष्य में ऐसा न करने के लिए चेतावनी दी है!

भले ही कमांडिंग ऑफिसर (Commanding Officer) ने PM मोदी के प्रति अपना अतिरिक्त सम्मान दिखाने के लिए ऐसी कड़ी कार्रवाई की! लेकिन उसकी गलती की वजह से खुद PM मोदी को भी काफी खरी-खोटी सुननी पड़ी! सोशल मीडिया पर लोगों ने पीएम मोदी पर निशाना साधते हुए बहुत सी बातें कहीं! एक शख्स ने लिखा कि जितना पीएम मोदी ने मनमोहन सिंह का अपमान किया है 2014 के कैंपेन (Campaign) में, इस हिसाब से तो उन्हें आजीवन कारावास की सजा दे देनी चाहिए!

और देखें – सचिन नहीं बल्कि इस खिलाडी बनाये अब तक के सबसे ज्यादा रन, कभी नहीं टूटेंगे ये विशालकाय रिकॉर्ड्स , आपकी भी आंखें फटी रहे जांयेंगी !

वहीं कुछ लोग यह भी तर्क दे रहे हैं कि हो सकता है! BSF में कुछ प्रोटोकॉल्स हों! जिनके चलते ऐसा किया गया हो!

बीएसएफ के जवान की सैलरी काटने की सजा के बारे में सुनकर कुछ लोगों ने यह भी कहा कि यह किंग जॉन्ग जैसे शासन (Kim Jong) की शुरुआत है! आपको बता दें कि किम जॉन्ग तानाशाही के लिए जाना जाता है!

जब खुद सरकार ‘मोदी प्रोग्राम’, ‘मोदी सरकार’, ‘मोदी केयर’ जैसे शब्दों का इस्तेमाल कर रही है! तो फिर BSF को किसी जवान द्वारा इनमें से किसी शब्द के बोलने पर आपत्ति क्यों? इस मामले में खुद PM मोदी ने हस्तक्षेप किया, क्योंकि उन्हें भी BSF की कार्रवाई गलत लगी! देश के हर नागरिक को प्रधानमंत्री (Prime minister) का सम्मान करना चाहिए, लेकिन सम्मान का हवाला देकर परेशान करने वालों के खिलाफ भी कुछ कार्रवाई करने की जरूरत है! BSF तो सिर्फ एक उदाहरण भर है, देश भर में ऐसा बहुत सी जगहों पर होता है! खास कर सोशल मीडिया पर!

और देखें – बेटी से 15 साल तक बनाया Sexual संबंध, पत्नी ने भी दिया साथ, बनी दो बच्चों की…

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here