आजादी के 70 साल बाद विश्व विरासत स्थान पर बिजली ... - Electricity produce
खास खबर

आजादी के 70 साल बाद विश्व विरासत स्थान पर बिजली (Electricity) पहुंची …

electricity produce

Electricity Produce: आजादी के 70 साल बाद विश्व विरासत स्थान पर बिजली (Electricity) पहुंची … हमे आजाद हुए ख़फ़ी समय हो चूका इस समय के अंतर्गत हम लोगो ने ख़फ़ी तरक्की भी की है! परन्तु आज टेक्नोलॉजी का जमाना है! इसलिए हर में बिजली का होना बहुत ही ज्यादा इम्पोर्टेन्ट (Important) हो चूका है! क्यकि बिना लाइट के रह पाना आज आधुनिक युग में बड़ा मुश्किल है! पर आज भी देश में बहुत से गॉव इस समस्या का सामना करते है! आजादी के 70 साल बाद बिजली आखिरकार मुंबई के पास एलीफांटा गुफाएं में पहुंच गई है! ये बड़ी ख़ुशी की बात भी है क्योकि हमारी पुराणी धरोहर में से एक है एलीफैंटा की गुफा (Elephanta cave)!

Electricity produce-

महाराष्ट्र में स्थित 7.5 km लंबी निवासी केबल बिछाकर विश्व प्रसिद्ध घरापुरी इस्ले, जो यूनेस्को की विश्व विरासत स्थल पर स्थित है, उससे बिजली लाई गयी है!

नई और नवीकरणीय ऊर्जा (Renewable Energy), ऊर्जा मंत्री, चंद्रशेखर बावनकुले ने कहा, “आज का यह एक ऐतिहासिक दिन है! यह पहली बार है कि इस तरह के बड़े तार केबल का उपयोग अरब सागर (Arabian Sea) में बिजली की लाइनों के प्रसार के लिए किया जा रहा है!”

उन्होंने आगे कहा कि यह कदम अब पर्यटन (Tourism) में वृद्धि करेगा! और अधिक लोग विश्व विरासत स्थल (world Heritage Site) पर जाएंगे! इस कदम से राज बंदर, मोरा बंदर और शेत बंदर (Raj Bandar, Mora Bander, Sait Bander) भी शामिल होंगे!

और देखें –

सेक्स करते समय experiment करना पड़ा भारी , हैरान रह जायेंगे आप भी पढ़ कर…sex experiment

सपना लाल जोड़े में , दुल्हन का ये अवतार हुआ सोशल मीडिया पर वायरल…

 

Click to comment

Leave a Reply

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

To Top
// Infinite Scroll $('.infinite-content').infinitescroll({ navSelector: ".nav-links", nextSelector: ".nav-links a:first", itemSelector: ".infinite-post", loading: { msgText: "Loading more posts...", finishedMsg: "Sorry, no more posts" }, errorCallback: function(){ $(".inf-more-but").css("display", "none") } }); $(window).unbind('.infscr'); $(".inf-more-but").click(function(){ $('.infinite-content').infinitescroll('retrieve'); return false; }); $(window).load(function(){ if ($('.nav-links a').length) { $('.inf-more-but').css('display','inline-block'); } else { $('.inf-more-but').css('display','none'); } }); $(window).load(function() { // The slider being synced must be initialized first $('.post-gallery-bot').flexslider({ animation: "slide", controlNav: false, animationLoop: true, slideshow: false, itemWidth: 80, itemMargin: 10, asNavFor: '.post-gallery-top' }); $('.post-gallery-top').flexslider({ animation: "fade", controlNav: false, animationLoop: true, slideshow: false, prevText: "<", nextText: ">", sync: ".post-gallery-bot" }); }); });